Category Archives: Uncategorized

।। अथ रुद्राष्टकम्

।। अथ रुद्राष्टकम् ।।नमामीशमीशान निर्वाणरूपं , विभुंव्यापकं ब्रह्मवेदस्वरूपं ।निजंनिर्गुणंनिर्विकल्पं निरीहं , चिदाकाशमाकाशवासंभजेऽहं ।।१।।निराकार ॐकारमूलं तुरीयं , गिराज्ञान गौतीतमीशं गिरीशं ।करालं महाकाल कालं कृपालं , गुणागार संसार पारं नतोऽहं ।।२।।तुषाराद्रिसंकाश गौरं गभीरं , मनोभूतकोटि प्रभाश्रीशरीरं ।स्फुरन्मौलि कल्लोलिनि चारुगंगा , लसद्भाल बालेन्दु कण्ठे भुजंगा ।।३।।चलत्कुण्डलं भ्रूसुनेत्रं विशालं , प्रसन्नाननं नीलकण्ठं दयालं ।मृगाधीश चर्माम्बरं मुण्डमालं , प्रियं शंकरं […]

कपूर के चमत्कारिक टोटके….

1..पुण्य प्राप्ति हेतु : कर्पूर जलाने की परंपरा प्राचीन समय से चली आ रही है। शास्त्रों के अनुसार देवी-देवताओं के समक्ष कर्पूर जलाने से अक्षय पुण्य प्राप्त होता है। अत: प्रतिदिन सुबह और शाम घर में संध्यावंदन के समय कर्पूर (कपूर) जरूर जलाएं। 2..पितृदोष और कालसर्पदोष से मुक्ति हेतु : कर्पूर जलाने से देवदोष व […]

अगर आपका प्रमोशन नहीं हो रहा तो :

अगर आपका प्रमोशन नहीं हो रहा तो : १. गुरूवार को किसी मंदिर में पीली वस्तुये जैसे खाद्य पदार्थ, फल, कपडे इत्यादि का दान करें ! २. हर सुबह नंगे पैर घास पर चलें ! पूजा का समान सस्ते दामो में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें

10 Mukhi Rudraksha and it’s benefits

Ten Mukhi Rudraksha symbolizes the Gods of all the 10 directions and the wearer gets blessed by these Gods. The ten faces Rudraksha have ten natural lines on its surface and embodies Gods of all the ten directions. This Rudraksha also saves us from the sin done by the 10 organs of our body. As this Mukhi […]

गुग्गुल का उपयोग

गुग्गुल का उपयोग सुगंध, इत्र व औषधि में भी किया जाता है. इसकी महक मीठी होती है और आग में डालने पर वह स्थान सुंगध से भर जाता है. गुग्गल की सुगंध से जहां आपके मस्तिष्क का दर्द और उससे संबंधित रोग दूर होते हैं, वहीं इसे दिल के दर्द में भी लाभदायक माना गया […]

सपने में शिव जी का मंदिर देखना :

अगर सपने में शिव जी का मंदिर देखना मतलब यह होता है की अगर आपको लम्बे समय से कोई बिमारी हो तो उस बिमारी का इलाज जल्द ही होने वाला है और आपकी तबियत ठीक होने वाली है | सपने में श्री गणेश जी देखना : नींद में सपने में सपने में गणेश जी की […]

A Simple Blog Post

शुक्रवार के दिन कार्यस्थल जाने से पहले इस मंत्र का एक माला जप करें ‘ॐ ह्रीं श्रीं क्रीं श्रीं क्रीं क्लीं श्रीं महालक्ष्मी मम गृह धनं पूरय पूरय चिन्तायै दूरय दूरय स्वाहा’’। इससे व्यवसाय में अद्भुत लाभ होगा । Www.Thepujamart.In